Search

संकल्प के साथ कभी समझौता नहीं करें


वेलूर - बेंगलूरु से विहार कर वानियमबाड़ी पहुंचे आचार्य महाश्रमण का जैन श्रावक-श्राविकाओं ने भावभीना स्वागत किया। मरूधर केसरी जैन महिला कॉलेज में धर्मसभा को संबोधित करते हुए आचार्य महाश्रमण ने कहा मन को सदा शुद्ध रखें ताकि हमारे मन में अनपेक्षित व अनामंत्रित विचार न आएं।


हम वीतराग व अर्हतों का विचार करें, जिससे हमारा मन पवित्र बन जाए। मन में प्रभु को बैठा लें तो मन निर्मल बन सकता है। हमें अपने मन को एकाग्र, निर्मल, पवित्र, सुवासित व आत्म चिंतनमय बनाने का प्रयास करते रहना चाहिए। मनुष्य अपने संकल्प के साथ कभी समझौता न करें। युवा सम्यक्त्व दीक्षा स्वीकार करें। स्वयं अणुव्रती बनें और बनाने का प्रयास करें। इस अवसर पर मरूधर केसरी जैन ट्रस्ट के पदाधिकारी एवं श्रावक-श्राविकाएं उपस्थित थे।


सहयोगियों का सम्मान


महावीर इन्टरनेशनल चेन्नई मेट्रो ने रॉयपेटा स्थित एक होटल में सहयोगियों और सेवा देने वाली सभी आई हॉस्पिटल का सम्मान किया। चेयरमन मोहनलाल जैन ने स्वागत भाषण दिया । आई केम्प चेयरमैन ज्ञानचंद कोठारी ने संस्था की गतिविधियों तथा नेत्र शिविरों की रिपोर्ट प्रस्तुत की।


अग्रवाल आई हॉस्पिटल, उदी आई हॉस्पिटल, भगवान महावीर आई हॉस्पिटल के पदाधिकारियों सम्मान सचिव दिलीप मेहता, सलाहकार प्रकाश गुलेच्छा ने किया। वाइस चेयरमैन अशोक मेहता, पदमचंद छाजेड़ और रिजनल सेक्रेटरी दिनेश भलगट भी इस अवसर पर उपस्थित थे।