Search

मुमुक्षु ज्योति लुणावत



जयपुर। किशनगढ़ के ओसवाली मोहल्ला निवासी दीक्षार्थी ज्योति लुणावत को परिवारजनों ने भावभीनी विदाई दी। वह ट्रेन से जयपुर और जयपुर से बेंगलुरू जाएगी। वहां पर 13 मई को दीक्षा कार्यक्रम होगा। दीक्षार्थी ज्योति लुणावत के पिता प्रकाश लुणावत ने बताया, पिछले कई दिनों से धार्मिक कार्यक्रम जारी रहे। जैन समाज की ओर से गत दिनों वर घोड़ा निकाला गया। समाज की ओर से उनका स्वागत और अभिनंदन भी किया गया। बुधवार को घर पर जैन संघ समाज, सर्व समाज के लोग और परिवारजनों ने दीक्षार्थी ज्योति लुणावत को धार्मिक रीति-रिवाज के साथ भावभीनी विदाई दी। वह ट्रेन से जयपुर के लिए रवाना हुई। शाम को जयपुर से बेंगलुरू के लिए रवाना होगी। इस दौरान दीक्षार्थी की मां बेला देवी लुणावत, दादा प्रेमचंद लुणावत, दादी सबरलता, बहन दीपिका, श्रेया और वंशिका सहित परिवार के कई लोग उपस्थित रहे।

दीक्षा कार्यक्रम दीक्षार्थी के पिता प्रकाश लुणावत ने बताया, दीक्षार्थी ज्योति लुणावत ने जीवों की रक्षा के लिए वैराग्य का मार्ग अपना रही है। बेंगलुरू के साधुमार्गी शांतक्रांति जैन श्रावक संघ की ओर से दीक्षा कार्यक्रम के तहत 12 मई को सुबह 8 बजे बड़ी बिंदौली श्रीरामपुरम जैन स्थानक से दीक्षा स्थल तक निकाली जाएगी। 13 मई को सुबह 8 बजे रत्न हितेषी श्रावक संघ के नव निर्मित भवन से महाभिष्क्रिमण यात्रा निकाली जाएगी। बेंगलुरू के राज राजेश्वरी कल्याण मंडप डॉ. राजकुमार रोड नवरंग टॉकिज के पास राजाजी नगर द्वितीय ब्लॉक में सुबह 9 से 11 बजे तक संयम पाठ के बाद दीक्षा दी जाएगी। दीक्षा मुनि विनोद म.सा. ठाणा तीन देंगे। मृदुलाश्रीजी और मणिप्रभा म.सा. आदि ठाणा उपस्थित रहेंगी।



Recent Posts

See All

4 Digambar Diksha at Hiran Magri Sector - Udaipur

उदयपुर - राजस्थान आदिनाथ दिगम्बर चेरिटेबल ट्रस्ट द्वारा 15 अगस्त को आचार्य वैराग्यनंदी व आचार्य सुंदर सागर महाराज के सानिध्य में हिरन मगरी सेक्टर 11 स्थित संभवनाथ कॉम्पलेक्स भव्य जेनेश्वरी दीक्षा समार