Search

मोह सब कर्मों पर भारी


तमिलनाड़ु कोयंबटूर ऊटी.

साध्वी प्रेक्षाश्री ने कहा कि ज्ञानियों ने मोह को सब कर्मों से ज्यादा कहा है। हमारा एक पैन के प्रति भी लगाव होता है, यदि कोई देना भूल जाए तो हमारा मोह उसमेंं अटका रहता है। वह ऊटी के जैन भवन में सोमवार को धर्म सभा को संबोधित कर रहीं थीं। इससे पहले रविवार को साध्वीव़़ृंद विहार कर ऊटी पहुंचे जहां जैन संघ की ओर से उनका अभिनंदन कर उन्हें प्रवचन स्थल तक लाया गया।

Recent Posts

See All

उदयपुर - राजस्थान आदिनाथ दिगम्बर चेरिटेबल ट्रस्ट द्वारा 15 अगस्त को आचार्य वैराग्यनंदी व आचार्य सुंदर सागर महाराज के सानिध्य में हिरन मगरी सेक्टर 11 स्थित संभवनाथ कॉम्पलेक्स भव्य जेनेश्वरी दीक्षा समार