Search

Anjanshalakha Pratistha Mahotsav at Agashi Tirth Virar



अगाशी महातीर्थ - अंजन-प्रतिष्ठा


चलो रे, अगाशी महातीर्थ चलो; अंजन-प्रतिष्ठा आई है... श्री शत्रुंजय की अतिप्राचीन तलेटीभूमि... ११.५ लाख वर्षाधिक प्राचीन जीवितस्वामी श्री मुनिसुव्रत दादा से मंडित... श्री अगासी(सोपारक) महातीर्थ में अंजनशलाका-प्रतिष्ठा महामहोत्सव